12.3 C
London
Monday, May 25, 2020

जिंदगी में कभी हिम्मत मत हारना – Zindgi mein kabhee himmat mat haarana

कभी कभी जिंदगी में ऐसा वक्त भी आता है जिससे लगता है कि सब कुछ गलत हो रहा है, ऐसा लगता है जैसे समय हमारे खिलाफ चल रहा हो हर चीज हमारे साथ उल्टी हो रही हो हर बात हमारे साथ गलत हो रही हो लगता है, सारी मुसीबतें हमारे पीछे पड़ गई है ऐसा क्यों होता है, जब इंसान के जीवन में कोई दुख की घड़ी आती है कोई कठिन समय आता है या बुरा वक्त आता है तो सारी परेशानी एक साथ आखिर क्यों खड़ी हो जाती है, ऐसे समय में इंसान को लगता है कि कोई उसका साथ देने वाला नहीं है इंसान खुद को अकेला महसूस करता है, खुद को हारा हुआ और कमजोर महसूस करता है और अपनी हिम्मत हार कर बैठ जाता है।

खुद का मनोबल कैसे बढ़ाये

एक बार एक गुरुजी अपने शिष्यों के साथ नदी किनारे नहाने के लिए आए बहती नदिया के आगे गुरुजी एक वृक्ष के नीचे आकर बैठ गए सभी शिष्य भी वहीं बैठ गए काफी देर तक गुरुजी वहीं बैठे रहे सुबह से दिन हो गया फिर आखिर में एक शिष्य ने गुरुजी से प्रश्न किया कि गुरुजी हम तो यहां स्नान के लिए आए थे सुबह से दिन हो चला है आखिर हम सब कब स्नान करेंगे तो गुरुजी ने कहा कि जब इस नदी की लहरी शांत हो जाएंगी जब, यह नदी ठहर जाएगी तब, हम इसमें स्नान करेंगे।

तो शिष्यों ने कहा कि गुरुजी नदी कैसे बहना छोड़ सकती है नदी तो ऐसे ही बहती रहेगी हमें इसी नदी में स्नान करना पड़ेगा फिर गुरुजी ने कहा कि यह नदी नहीं है, यह जिंदगी है, जिंदगी में भी ऐसे ही दुखों और सुखों की लहरें चलती है।

नदी है पर यदि हम दुखों से हार के बैठ जाएंगे कि जब यह दुख खत्म होंगे जब यह बुरा वक्त खत्म होगा तब हम कुछ करेंगे वह ऐसी स्थिति में हम जिंदगी में कुछ कर ही नहीं पाएंगे क्योंकि यह जिंदगी का दस्तूर है और इन्हीं दुख की गाड़ियों में इन्हीं असफलताओं की गाड़ियों में हमें आगे बढ़ना है हमें जिंदगी में कभी भी हार नहीं माननी चाहिए।

अगर विफलता की बात करें तो

थॉमस ऐल्वा एडीसन
लाइट का बल्ब बनाने से पहले हजार बार प्रयोग में विफल हुए थे उन से किसी ने पूछा जब आप हजार बार प्रयोग में विफल हो गए तो क्या आपने कभी हिम्मत नहीं हारी तो क्या आपको कभी निराशा नहीं हुई तो थॉमस एडिसन ने कहा कि नहीं मैंने उन हजार असफल प्रयोगों से भी कुछ सीखा कि इन हजार तरीकों से बिजली नहीं बनाई जा सकती।

अल्बर्ट आइंस्टाइन
जो 4 साल की उम्र तक कुछ बोल नहीं पाता था और 7 साल की उम्र तक निरक्षर था लोग उसको दिमागी रूप से कमजोर मानते थे लेकिन अपनी तैयारी और सिद्धांतों के बल पर वह दुनिया का सबसे बड़ा साइंटिस्ट बना हम भी जिंदगी में बहुत कुछ बड़ा कर सकते हैं पर हम अपनी असफलताओं से हट जाते हैं क्योंकि उसे डर जाते हैं इसलिए हम चलना ही छोड़ देते हैं चाहे जिंदगी में कितना भी कठिन लगता है पर वह कुछ न कुछ सिखा कर जरूर जाता है मेरे अच्छे वक्त ने दुनिया को बताया कि मैं कैसा हूं और मेरे बुरे वक्त ने मुझे बताया कि दुनिया के कैसा है।

अगर जिंदगी में बुरा वक्त ना आए तो हम अपनों में पराये और पराये में अपनों को कभी ढूंढ ही नहीं सकते तो कितना भी कठिन समाया है घबराना मत सब्र करो बुरे वक्त का भी एक दिन बुरा वक्त आता है तो दुख से कभी घबराओ मत दुख भी एक गुरु की तरह हमारी जिंदगी में आता है और हमें बहुत कुछ सिखा कर चला जाता है।

मैं शुक्रगुजार हूं उन तमाम लोगों का जिन्होंने मेरे बुरे वक्त में मेरा साथ छोड़ दिया क्योंकि उनकी वजह से ही मुझे पता चला कि मुसीबतों से मैं अकेला ही निपट सकता हूँ और जिस इंसान ने बुरा वक्त देखा है कठिन समय देखा है जो संघर्षों से गुजरा है वह इंसान दूसरे के दर्द को भी समझ पाता है दूसरे की तकलीफों को भी समझ पाता है तो कैसा भी वक्त है जिंदगी में कभी हिम्मत मत हारना हर परिस्थिति में आप आगे बढ़ते रहो क्योंकि जिंदगी आगे बढ़ने का नाम है रुकने का नहीं।

Yeezyboostsiteshttps://www.yeezyboostsites.com/
नमस्कार दोस्तों, मैं Anil Srivastava, Yeezyboostsites का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो 2017 के बाद से 3+ से अधिक वर्षों के लिए ब्लॉगिंग में अनुभव किया हूँ और 2017 के बाद से ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी और क्रिप्टोक्यूरेंसी के बाद। मैंने कुछ ऑनलाइन व्यवसाय शुरू किए और बहुत कुछ सीखा जो मेरे पाठकों के साथ साझा करने योग्य है।

popular

MBBS: एमबीबीएस की डिग्री क्या है। MBBS कैसे और कहाँ करे

आज करियर के लिए भले ही नए ऑप्शंस क्यों न आ जाएं लेकिन डॉक्टर बनने का सपना वाले लोग कम नहीं आज भी स्टूडेंट्स...

प्रोसेसर क्या है कैसे काम करता है और इसका उपयोग। Processor kya hai

टेक्नोलॉजी से परिपूर्ण आज के दौर में हम बहुत सारी गाजिस का इस्तेमाल करते हैं जिनमें से सबसे ज्यादा उपयोग हम मोबाइल और कंप्यूटर...

Android Kya Hai? – एंड्राइड के अविष्कार और इतिहास

हम मेसे बहुत अधिक लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं और आप कहीं पर भी चले जाइये आपको हर जगह एंड्रॉइड के यूजर देखने...

HTTP और HTTPS में अंतर क्या है। HTTP vs HTTPS?

हम अपने जीवन में कुछ भी काम करते हैं तो सबसे पहले हम अपनी सुरक्षा का ध्यान रखते हैं जैसे हम अपनी सुरक्षा के...

Related news

SarkariResult वेबसाईट पे सरकारी नौकरी और ऑनलाइन फॉर्म

Sarkari Result, Sarkari Job 2020: अभी के समय में हर कोई एक अच्छी जिंदगी जीना चाहता है अपनी ख्वाहिशों अपनी सपनो को...

खोए हुए पैन कार्ड को कैसे प्राप्त करें

क्या आपने अपना पैन कार्ड खो दिया है, खोए हुए पैन कार्ड नंबर को कैसे खोजें – स्थायी खाता संख्या (पैन) एक...

हाइट कैसे बढ़ाए हाइट बढ़ाने के सरल और प्रभावी तरीके

नमस्कार, पाठकों, हम एक नए विषय के साथ वापस आए हैं जो स्वास्थ्य पर है। इस लेख में, हम आपको बताएंगे कि आपकी ऊंचाई...

बच्चों के दिमाग को जल्दी कैसे विकसित करे

हर कोई चाहता है कि उसके बच्चे Bright और Smart बनें । जो भी उनसे पूछा जाए वो बता दे जो भी उनसे करने...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here